उपकरण और उनके उपयोग:-
.
1) अल्टीमीटर -> उंचाई सूचित करने हेतु वैज्ञानिक यंत्र
2) अमीटर → विद्युत् धारा मापन
3) अनेमोमीटर → वायुवेग का मापन
4) ऑडियोफोन → श्रवणशक्ति सुधारना
5) बाइनाक्युलर → दूरस्थ वस्तुओं को देखना
6) बैरोग्राफ → वायुमंडलीय दाब का मापन
7) क्रेस्कोग्राफ → पौधों की वृद्धि का अभिलेखन
8) क्रोनोमीटर → ठीक ठीक समय जान्ने हेतु जहाज में लगायी जाने वाली घड़ी
9) कार्डियोग्राफ → ह्रदयगति का मापन
10) कार्डियोग्राम → कार्डियोग्राफ का कार्य में
सहयोगी
11) कैपिलर्स → कम्पास
12) डीपसर्किल → नतिकोण का मापन
13) डायनमो→ यांत्रिक ऊर्जा को विद्युत् उर्जा में बदलना
14) इपिडियास्कोप → फिल्मों का पर्दे पर प्रक्षेपण
15) फैदोमीटर → समुद्र की गहराई मापना
*16) गल्वनोमीटर →*अति अल्प विद्युत् धारा का मापन
17) गाड्गरमुलर → परमाणु कण की उपस्थिति व जानकारी लेने हेतु
18) मैनोमीटर → गैस का घनत्व नापना
19) माइक्रोटोम्स → किसी वस्तु का अनुवीक्षनीय परिक्षण हेतु छोटे भागों में विभाजित करता है।
20) ओडोमीटर → कार द्वारा तय की गयी दूरी बताता है।
21) पेरिस्कोप → जल के भीतर से बाहरी वस्तुएं देखि जाती हैं।
22) फोटोमीटर → प्रकाश दीप्ति का मापन
23) पाइरोमीटर → अत्यंत उच्च ताप का मापन
24) रेडियोमीटर → विकिरण द्वारा विकरित उर्जा का मापन
25) सीज्मोमीटर → भूकंप की तीव्रता का मापन
26) सेक्सटेंट → ग्रहों की उंचाई जानने हेतु
27) ट्रांसफॉर्मर → प्रत्यावर्ती धारा की वोल्टता में
परिवर्तन करने हेतु
28) टेलीप्रिंटर → टेलीग्राफ द्वारा भेजी गयी सूचनाओं को स्वतः छापने वाला यंत्र
29) टैक्सीमीटर → टैक्सीयों में;किराया दर्शाने वाला यंत्र
30) टैकोमीटर → मोटरबोट व वायुयान का वेगमापक
31) टेलीस्कोप → दूरस्थ वस्तुओं को देखने में सहायक यंत्र
32) जाइरोस्कोप → घूमती वस्तु की गतिकी का अध्ययन
33) ग्रेवीमीटर → जल में
उपस्थित तेल क्षेत्रों का पता लगाना
34) ग्रामोफोन → रिकार्ड पर उपस्थित ध्वनि को पुनः सुनाने वाला यंत्र
35) कायमोग्राफ → रक्तदाब, धडकन का अध्ययन
www.brilliantacademyoflearning.com

Comments

Popular posts from this blog

SSC CGL TIER - 2(QUANTATIVE APTITUDE) ONLINE RE-EXAM PAPER HELD ON 12 JANUARY 2017